• Phone Number

  • +91-1662-234682, 271634

line
Science

Science

महाविद्यालय में विज्ञान संकाय के अन्तर्गत B.Sc. Ist में निम्न अध्ययन समूह (Subject Combination) उपलब्ध हैं:-

Code No.                                        B.SC. I Medical
201 English Zoology Botany Chemistry
B.SC. I MEDICAL WITH BIO-TECHNOLOGY
202 English Biotechnology Zoology Botany
B.SC. I NON MEDICAL
203 English Physics Maths Chemistry
B.SC. I NON-MEDICAL WITH COMPUTER SCIENCE
204 English Physics Maths Computer Science
 

Note: B.Sc. (Medical/Non Medical) प्रथम वर्ष के लिए प्रवेश योग्यता:

 

  • बी.एससी. प्रथम वर्ष में उस विद्यार्थी को प्रवेश दिया जाएगा जिसने हरियाणा शिक्षा बोर्ड की सीनियर सैकेण्डरी ( 10+2 प्रणाली ) की परीक्षा या सी.बी.एस.ई. की सीनियर सैकेण्डरी की परीक्षा या कुरुक्षेत्र विश्वविद्यालय से मान्यता प्राप्त अन्य समकक्ष परीक्षा अंग्रेज़ी विषय सहित विज्ञान संकाय में न्यूनतम 40% अंक लेकर पास की हो। अनुसूचित जाति, जनजाति, पिछड़ा वर्ग के प्रवेशार्थियों का 10+2 में केवल पास होना आवश्यक है।
  • विज्ञान संकाय में प्रवेश योग्यता सूची के अनुरूप होगा।
  • योग्यता सूची में लिखित तिथि के अनुसार फीस जमा करवाकर ही प्रवेश लेना होगा अन्यथा चयनित स्थान रदद् हो जाएगा।
  • नाॅन मेडिकल में कम्प्यूटर सांइस तथा रसायन विज्ञान के लिए अलग-अलग फार्म भरना होगा।
  • हरियाणा बोर्ड के अतिरिक्त किसी भी अन्य बोर्ड की छात्राएँ प्रवेश हेतु 10+2 के मूल प्रमाण-पत्र, इसकी दो-प्रतियाँ तथा Original Migration Certificate के साथ Eligibility Form भरने के लिए महाविद्यालय की परीक्षा-शाखा से सम्पर्क करें।
  • 10+2 में एक विषय में कम्पार्टमेंट प्राप्त विद्यार्थी भी आवेदन कर सकते हैं। स्थान रिक्त होने पर ही उन्हें प्रवेश दिया जाएगा। इन छात्राओं को December, 2017 तक अपनी Compartment उत्तीर्ण करनी होगी। 
     

बी.एससी. II, III वर्ष के लिए न्यूनतम योग्यता:

विश्वविद्यालय के नियमानुसार यदि कोई परीक्षार्थी सेमेस्टर की किसी परीक्षा में अनुपस्थित रहती है अथवा किसी विषय में अनुत्तीर्ण हो जाता है, तो भी वह अगली कक्षा की पढ़ाई जारी रख सकता है और दोनों परीक्षाओं में एक साथ उपस्थित हो सकती है।

कोर्स की अवधि (6 Semester) पूरी होने के बाद परीक्षार्थी उन परीक्षाओं में जिनमें वह अनुत्तीर्ण रही हो पूर्व-छात्रा (as exstudent) के तौर पर Privately परीक्षा दे सकती है।

बी.एससी. II, III वर्ष में विषय परिवर्तित नहीं होंगे।

बी.एससी. II में संस्कृत, हिन्दी व पंजाबी विषयों में से एक विषय लेना अनिवार्य है।